India News Agency
Begin typing your search above and press return to search.

शक्ति परीक्षण के खिलाफ शिवसेना की याचिका पर शाम 5 बजे सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट, 'तत्काल कि…'I

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को कहा कि वह राज्यपाल के फ्लोर टेस्ट के आदेश के खिलाफ शिवसेना की याचिका पर

Supreme Court to hear Senas plea against floor test at 5pm, ‘urgency that…’

Indianews@agencyBy : Indianews@agency

  |  2022-06-29T06:30:18+05:30

Supreme Court to hear Sena's plea against floor test at 5pm, ‘urgency that…’

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को कहा कि वह राज्यपाल के फ्लोर टेस्ट के आदेश के खिलाफ शिवसेना की याचिका पर शाम 5 बजे सुनवाई करेगा, जो कि तात्कालिकता को देखते हुए बनाई गई है। वरिष्ठ अधिवक्ता और कांग्रेस नेता अभिषेक सिंघवी ने शिवसेना की ओर से पेश मामले का उल्लेख करते हुए आज शाम 5 बजे से शाम 6 बजे तक सुनवाई की मांग की। सिंघवी ने तर्क दिया कि फ्लोर टेस्ट होने पर सुप्रीम कोर्ट के पहले के आदेश जिसमें उसने रेवेल विधायकों को अयोग्यता से बचाने के लिए एक अंतरिम आदेश दिया था, का दुरुपयोग किया जाएगा। शिंदे धड़े की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता नीरज किशन कौल ने याचिका का विरोध किया और कहा कि अयोग्यता की कार्यवाही का फ्लोर टेस्ट से कोई लेना-देना नहीं है।

न्यायमूर्ति कांत के समक्ष मामले का उल्लेख करते हुए सिंघवी ने कहा कि शक्ति परीक्षण अवैध है क्योंकि इसमें अयोग्यता का सामना करने वाले व्यक्तियों को शामिल नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा, "मैं केवल आज शाम को सूचीबद्ध करने का अनुरोध कर रहा हूं। अन्यथा, मामला निष्फल हो जाएगा।"

शिंदर गुट के वकील ने कहा कि फ्लोर टेस्ट के लिए बुलाना राज्यपाल का विशेषाधिकार है। कौल ने कहा, "किसी भी मामले में, अयोग्यता आवेदन के लंबित रहने का फ्लोर टेस्ट से कोई लेना-देना नहीं है। सुप्रीम कोर्ट ने ऐसा कहा है।"

सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि फ्लोर टेस्ट कब है और कहा कि जो तात्कालिकता पैदा की गई है, उसे देखते हुए वह आज ही मामले की सुनवाई करना चाहेगा। शीर्ष अदालत ने कहा, "हम अपना कर्तव्य निभाएंगे।" सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने फाइलिंग को दोपहर 3 बजे तक करने और प्रतिवादियों को प्रतियां तामील करने को कहा।

Next Story