India News Agency
Begin typing your search above and press return to search.

एक ही दिन में 8% से ज्यादा गिरने के बावजूद दो हफ्ते में 40 फीसदी चढ़ा Zomato के शेयर, आगे क्या होगा

अपने निवेशकों को रुलाने वाले ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म Zomato का शेयर शुक्रवार को 8 फीसदी से ज्यादा नीचे बंद

एक ही दिन में 8% से ज्यादा गिरने के बावजूद दो हफ्ते में 40 फीसदी चढ़ा Zomato के शेयर, आगे क्या होगा

Indianews@agencyBy : Indianews@agency

  |  2022-08-22T03:29:06+05:30

अपने निवेशकों को रुलाने वाले ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म Zomato का शेयर शुक्रवार को 8 फीसदी से ज्यादा नीचे बंद हुआ. इसके बावजूद पिछले दो हफ्ते में इसने करीब 40 फीसदी का रिटर्न दिया है. आपको बता दें कि जुलाई के महीने में एक बुरा हादसा हुआ था। जिन निवेशकों ने कंपनी में दांव लगाया था, वे शेयरों को नुकसान में बेचकर बाहर निकल रहे थे।

निवेशक आगे क्या करें

बाजार के जानकारों की राय के मुताबिक 19 में से 7 मजबूत खरीदारी देते हैं और 9 खरीदारी की सलाह देते हैं। जबकि दो ने होल्ड करने को कहा है। ग्लोबल ब्रोकरेज हाउस जेफरीज ने जोमैटो के शेयरों पर बाय रेटिंग बरकरार रखी है। ब्रोकरेज हाउस ने Zomato के शेयरों के लिए 100 रुपये का टारगेट प्राइस दिया है. ब्रोकरेज हाउस एंबिट ने भी जोमैटो के शेयरों को बाय रेटिंग दी है और कंपनी के शेयरों के लिए 103 रुपये का टारगेट प्राइस दिया है। हाल ही में कोटक इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज ने कहा था कि जोमैटो के शेयरों का सबसे बुरा दौर खत्म हो गया है। अब कंपनी के शेयरों में तेजी की उम्मीद है।

आपको बता दें कि चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में Zomato का समेकित शुद्ध घाटा घटकर 185.7 करोड़ रुपये हो गया है। एक साल पहले इसी अवधि में कंपनी का घाटा 356.2 करोड़ रुपये था। वहीं, मार्च 2022 तिमाही में Zomato को 359.7 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। जून 2022 तिमाही में Zomato का समेकित राजस्व 16% घटकर 1,414 करोड़ रुपये रह गया। ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म का जून 2021 की तिमाही में 844 करोड़ रुपये का राजस्व था। वहीं, मार्च 2022 तिमाही में यह 1212 करोड़ रुपये थी। वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में कंपनी का ग्रॉस ऑर्डर वैल्यू बढ़कर 6,430 करोड़ रुपये हो गया है।

Next Story