India News Agency
Begin typing your search above and press return to search.

टीएमसी सांसद द्वारा पार्टी में भ्रष्टाचार बताए जाने पर भड़की महाभारत, सख्त कार्रवाई की मांग

भ्रष्टाचार की बात करने के बाद तृणमूल कांग्रेस में तनाव शुरू हो गया है। पार्टी सांसद सौगत रॉय ने राज्यसभा

टीएमसी सांसद द्वारा पार्टी में भ्रष्टाचार बताए जाने पर भड़की महाभारत, सख्त कार्रवाई की मांग

Indianews@agencyBy : Indianews@agency

  |  2022-08-31T04:29:49+05:30

भ्रष्टाचार की बात करने के बाद तृणमूल कांग्रेस में तनाव शुरू हो गया है। पार्टी सांसद सौगत रॉय ने राज्यसभा सांसद जवाहर सरकार के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की मांग की हैI उन्होंने रॉय को 'स्वार्थी' भी कहा है। खबर है कि पूर्व आईएएस अधिकारी सरकार ने अन्य टीएमसी नेताओं पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद पार्टी छोड़ने की बात कही थीI

रॉय ने कहा, "हमारी पार्टी तय करेगी कि उनके साथ क्या करना है, लेकिन मैं कहता हूं कि उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जानी चाहिए।" "अगर वह इतने शर्मिंदा हैं, तो वह अभी भी राज्यसभा के सदस्य क्यों हैं? उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। वह पार्टी छोड़ने के लिए स्वतंत्र हैं। सरकार जैसे लोगों का हमारी पार्टी के लंबे संघर्ष या हालिया चुनावों में हमारी जीत में कोई योगदान नहीं है। उनका टीएमसी के जाने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

सोमवार को सरकार ने कहा था, 'इतना पैसा वसूल होते देख मैं हैरान था। मेरा जन्म मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ है। मेरे कुछ दोस्त मजाक में कहते हैं कि अगर मैं अब भी टीएमसी में हूं तो ऐसा इसलिए है क्योंकि मुझे कुछ मिल गया होगा। मैंने अपने पूरे करियर में कभी इस तरह की शर्मिंदगी का सामना नहीं किया। वह बंगाल के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी और उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी के मामले की बात कर रहे थे।

उन्होंने कहा, 'हर जगह लोग इसके बारे में बात कर रहे हैं। मेरे परिवार ने मुझे तुरंत राजनीति छोड़ने के लिए कहा। उन्होंने पार्टी के एक हिस्से को सड़ा हुआ बताया था। साथ ही यह भी कहा गया कि अगर हालात नहीं बदले तो पार्टी 2024 में लोकसभा चुनाव नहीं जीत पाएगी। करीब 42 साल तक सेवा में रहीं सरकार को भारतीय जनता का बड़ा आलोचक माना जाता है। केंद्र में जनता पार्टी।

हालांकि अभी तक पार्टी ने सरकार के बारे में आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा है। पार्टी के प्रदेश महासचिव कुणाल घोष ने कहा, 'मैं सरकार की टिप्पणियों पर कुछ नहीं कहूंगा. हालांकि, यह सभी जानते हैं कि ममता बनर्जी और अभिषेक बनर्जी अपने द्वारा उठाए गए मुद्दों को पहले से ही देख रहे हैं।

Next Story