India News Agency
Begin typing your search above and press return to search.

दिल की उम्र बढ़ाने के लिए रोजाना एक मुट्ठी भीगे हुए बादाम खाएं, याददाश्त बढ़ाने के अलावा यह 5 फायदे भी देता है।

आयुर्वेद के अनुसार बादाम के फायदेबादाम एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होने के साथ-साथ कई पोषक तत्व भी होते हैं। आयुर्वेद के

दिल की उम्र बढ़ाने के लिए रोजाना एक मुट्ठी भीगे हुए बादाम खाएं, याददाश्त बढ़ाने के अलावा यह 5 फायदे भी देता है।

Indianews@agencyBy : Indianews@agency

  |  2022-08-26T03:46:58+05:30

आयुर्वेद के अनुसार बादाम के फायदे
बादाम एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होने के साथ-साथ कई पोषक तत्व भी होते हैं। आयुर्वेद के अनुसार बादाम का सेवन करने से शरीर की कमजोरी दूर होती है, साथ ही भूख न लगने पर भी बादाम का सेवन बहुत फायदेमंद होता है।

याददाश्त बढ़ाने के अलावा यहां जानिए बादाम खाने के 5 और फायदे

  1. रक्त शर्करा को नियंत्रित करता है
    बादाम जैसे मेवे कार्ब्स में कम होते हैं, लेकिन स्वस्थ वसा, प्रोटीन और फाइबर में उच्च होते हैं। जिस कारण यह मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के 1991 के शोध के अनुसार बादाम में मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। साथ ही शरीर में मैग्नीशियम के स्तर में सुधार टाइप 2 डायबिटीज में फायदेमंद होता है।
  2. चेहरे पर झुर्रियां नहीं पड़ने देता
    बढ़ती उम्र के साथ चेहरे पर झुर्रियां आना आम बात है। लेकिन कम उम्र में झुर्रियों का दिखना त्वचा के स्वास्थ्य पर बहुत प्रभाव डालता है। आयुर्वेद के अनुसार जिन लोगों को झुर्रियों की समस्या होती है, उन्हें बादाम का पेस्ट रोजाना बादाम के सेवन के साथ लगाना चाहिए। झुर्रियों की समस्या में यह फायदेमंद होता है।
  3. कोलेस्ट्रॉल स्तर को नियंत्रित करता है
    जानकारों के मुताबिक रोजाना एक मुट्ठी भीगे हुए बादाम खाने से खराब कोलेस्ट्रॉल को कम किया जा सकता है। शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने से हृदय रोगों का खतरा भी बढ़ सकता है।

जून 2010 में, पबमेड सेंट्रल ने एक अध्ययन किया जिसमें 16 सप्ताह तक प्रीडायबिटीज वाले 65 लोगों का अध्ययन किया गया। इस शोध से पता चला कि रोजाना बादाम का सेवन करने से खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर 12.4 मिलीग्राम कम हो जाता है। जिसका सीधा सा मतलब है कि आपके दिल के स्वस्थ होने की संभावना अधिक है।

  1. वजन कम करने में कारगर
    वजन घटाने की यात्रा में बादाम जैसे नट्स का सेवन करना आवश्यक माना जाता है, क्योंकि इनमें स्वस्थ फाइबर और वसा होते हैं। जो शरीर के विकास के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के अनुसार बादाम का सेवन करने से आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगती है। जिससे आप कम कैलोरी का सेवन करते हैं। इस कारण बादाम को वजन घटाने के अनुकूल भोजन माना जाता है।
  2. आंतों की समस्याओं में बेहद फायदेमंद
    बादाम हमारे पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने के साथ-साथ आंतों के लिए भी बहुत फायदेमंद होते हैं। अगर हमारी आंतें स्वस्थ होंगी तो हमारा पेट भी स्वस्थ रहेगा। आयुर्वेद के अनुसार जिन लोगों को आंतों से संबंधित समस्या होती है, अगर वे बादाम को अंजीर के साथ पीसकर इसका सेवन करें तो इससे आंतों की समस्याओं से राहत मिलती है।
Next Story