नया फोन क्यों खरीदें? अपने पुराने फोन की ये सेटिंग बदलें, नए फोन से तेज चलेगी

त्योहारों का मौसम आने वाला है और इसी के साथ सभी स्मार्टफोन कंपनियों ने अपने नए फोन बाजार में लाना शुरू कर दिया है। क्योंकि भारत में त्योहारी सीजन एक ऐसा समय होता है जब लोग सबसे ज्यादा खरीदारी करते हैं। ऐसे में अगर आप भी अपने बजट से बाहर जाकर स्मार्टफोन खरीदने का प्लान कर रहे हैं तो यह खबर आपके काम की है। यदि आपका फोन खराब स्थिति में है या पुराना ऑपरेटिंग सिस्टम चला रहा है, तो आपको एक नया खरीदना चाहिए। लेकिन अगर आपका फोन पांच साल से कम पुराना है और अभी भी चल रहा है तो आप इसकी स्पीड को सुधार कर इसे नया बना सकते हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे ट्रिक्स बताने जा रहे हैं जो आपके पुराने स्मार्टफोन को नया फोन जैसा बना सकते हैं।

पुराने फोन को नया कैसे बनाएं
चरण 1: सॉफ़्टवेयर संगतता की जाँच करें
Apple के iOS और Google के Android सॉफ़्टवेयर के लिए नवीनतम अपडेट डाउनलोड करें। ये अपडेट पुराने डिवाइस को फिर से नया महसूस करा सकते हैं, और महत्वपूर्ण सुरक्षा और बग फिक्स के साथ आ सकते हैं। सिस्टम और सुरक्षा अपडेट अलग हैं। सेटिंग ऐप में अपना Android संस्करण जांचें और अपडेट करें।

चरण 2: फोन चार्ज करने की आदतों को ठीक करें
यदि आपकी केबल क्षतिग्रस्त है, तो उसे बदल दें। नायलॉन केबल या वायरलेस चार्जर में अपग्रेड करने पर विचार करें। वायरलेस चार्जर आपके डिवाइस को थोड़ी धीमी गति से चार्ज करते हैं लेकिन वे आपको केबल चार्ज करने की परेशानी से मुक्त करते हैं। बैटरी को बार-बार 100% चार्ज करना या 15% से कम अपने फ़ोन का उपयोग करना आपके फ़ोन के लिए अच्छा नहीं है।

आईफोन: सेटिंग्स> बैटरी> बैटरी हेल्थ पर जाएं, फिर बैटरी की उम्र बढ़ने को कम करने के लिए ऑप्टिमाइज्ड बैटरी चार्जिंग को इनेबल करें।

सैमसंग: सेटिंग> डिवाइस केयर> ऑप्टिमाइज़ नाउ पर जाएं। गैलेक्सी फोन में “बैटरी की रक्षा करें” विकल्प होता है, जो चार्ज को 85% तक सीमित करता है। सेटिंग> बैटरी और डिवाइस केयर> बैटरी> अधिक बैटरी सेटिंग्स> बैटरी को सुरक्षित रखें पर जाएं।

चरण 3: फोन को रोजाना रिस्टार्ट करें
कभी-कभी आपके डिवाइस को पुनरारंभ करने से भी रैम खाली हो जाती है और ऐप्स रीसेट हो जाते हैं। जिन फोन में कम रैम होती है उनके लिए यह तरीका काफी काम का हो सकता है। हालाँकि, यह 8GB या 12GB RAM वाले नए Android उपकरणों के लिए काम नहीं करता है।

चरण 4: इन ऐप्स को अनइंस्टॉल करें
हमारे स्मार्टफोन में कई ऐप्स मौजूद होते हैं। हालाँकि, हम इनमें से कुछ का ही नियमित रूप से उपयोग करते हैं। ऐसे में आप जिन ऐप्स का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं, उन्हें फोन से अनइंस्टॉल कर दें। साथ ही, ऐसे ऐप्स से बचें जो लगातार आपके फोन की मेमोरी खा रहे हों या बैकग्राउंड में चलते रहें। लाइट ऐप का उपयोग करें आप प्ले स्टोर से फेसबुक से लेकर इंस्टाग्राम और ट्विटर जैसे लोकप्रिय ऐप के लाइट वर्जन डाउनलोड कर सकते हैं, हालांकि उनमें सुविधाओं की कमी महसूस हो सकती है, लेकिन यह आपके फोन पर काफी जगह बचा सकता है।

चरण 5: फ़ैक्टरी रीसेट भी एक तरीका है
अगर सभी तरकीबों का इस्तेमाल करने के बाद भी आपके फोन में कोई फर्क नहीं पड़ा है तो आखिरी तरीका फैक्ट्री रीसेट है। इससे आपका फोन बिल्कुल नए जैसा हो जाएगा। यानी इसमें वही सेटिंग्स और ऐप्स रहेंगे, जो नया फोन खरीदते वक्त आए थे। गौर करने वाली बात है कि आपका सारा डेटा भी डिलीट हो जाएगा। इसलिए अपने सभी फोटो, वीडियो और कॉन्टैक्ट्स का पहले ही बैकअप ले लें।