आयुर्वेद : शरीर में जमा चर्बी को तेजी से कम करेगा शहद, एक्सपर्ट से जानिए इसके इस्तेमाल का सही तरीका

घर पर फैट बर्न करने का बेस्ट तरीका: शहद का इस्तेमाल सदियों से अलग-अलग चीजों में किया जाता रहा है। कुछ लोग इसका इस्तेमाल फैट कम करने के लिए करते हैं तो कुछ इसे बढ़ाने के लिए। मधुमक्खी के छत्ते का ताजा शहद शरीर के वजन को बढ़ाता है और हल्का रेचक होता है। वहीं, शहद जो पुराना है वह वसा के चयापचय में मदद करता है और कफ को दूर करता है। आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉक्टर दीक्षा भावसार ने अपने हालिया इंस्टाग्राम पोस्ट में शहद से जुड़ी चीजों के बारे में बताया है और इसे बेस्ट फैट बर्नर भी बताया हैI

आयुर्वेद में शहद के फायदे

1) शहद आंखों और आंखों की रोशनी के लिए बहुत अच्छा होता है।
2) यह प्यास बुझाता है और कफ को घोलता है।
3) मूत्र मार्ग के विकार, दमा, खांसी, दस्त और जी मिचलाना-उल्टी में यह बहुत उपयोगी है।
4) यह एक प्राकृतिक विषहरण है।
5) यह हृदय के लिए अच्छा है, त्वचा में सुधार करता है, और कामोत्तेजक है।
6) गहरे घावों को जल्दी भरने में मदद करता है।
7) स्वस्थ दानेदार ऊतक के विकास की शुरुआत करता है।

बस उपयोग न करें

1) शहद को गर्म भोजन या पानी के साथ नहीं मिलाना चाहिए।
2) गर्म स्थान पर काम करते समय शहद नहीं खाना चाहिए।
3) शहद को कभी भी घी के साथ या गर्म, मसालेदार भोजन के साथ नहीं मिलाना चाहिए।
4) साथ ही इसे किण्वित पेय (जैसे, व्हिस्की, रम, ब्रांडी) या सरसों के साथ नहीं मिलाना चाहिए।

कैसे इस्तेमाल करे

1) अगर आप मोटापे के लिए इसका इस्तेमाल कर रहे हैं तो 1 चम्मच शहद एक गिलास कमरे के तापमान के पानी के साथ लें।

2) 1 टीस्पून शहद में 1 टीस्पून पीएफ हल्दी और 1 काली मिर्च मिलाकर पीने से खांसी, जुकाम, साइनसाइटिस, इम्युनिटी ठीक हो जाती है।

3) इसके अलावा गर्म पानी में शहद मिलाकर पीने की बड़ी गलती करने से बचें।