India News Agency
Begin typing your search above and press return to search.

लो ब्लड प्रेशर से हैं परेशान तो जानिए क्या है वजह, ये उपाय करेंगे फिर सामान्य

निम्न रक्तचाप का कारण क्या है? लो बीपी की समस्या के पीछे कई कारण हो सकते हैं, जिनमें से प्रमुख

लो ब्लड प्रेशर से हैं परेशान तो जानिए क्या है वजह, ये उपाय करेंगे फिर सामान्य

Indianews@agencyBy : Indianews@agency

  |  2022-08-17T04:23:16+05:30

निम्न रक्तचाप का कारण क्या है?

लो बीपी की समस्या के पीछे कई कारण हो सकते हैं, जिनमें से प्रमुख इस प्रकार हैं।

तनाव, भय, असुरक्षा या दर्द (बेहोशी के सबसे सामान्य कारण)

निर्जलीकरण

अत्यधिक रक्तदान

आंतरिक रक्तस्राव

तंत्रिका तंत्र विकार, पार्किंसंस रोग

एक गहरी चोट जिसके कारण अत्यधिक रक्त प्रवाह होता है।

गर्भावस्था

उच्च रक्तचाप के लिए दवाएं

दिल की बीमारी

एलर्जी

संक्रमण

निम्न रक्तचाप को सामान्य करने में मदद करेंगे ये उपाय
रक्तचाप कम करने के लिए कॉफी
कॉफी रक्तचाप बढ़ाने का एक तरीका हो सकता है। पोस्टप्रैन्डियल ऑर्थोस्टेटिक हाइपोटेंशन की समस्या के लिए कॉफी फायदेमंद हो सकती है, यानी निम्न रक्तचाप जो भोजन के ठीक बाद होता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में यह खुलासा हुआ है। वास्तव में, कॉफी को कैफीन का एक समृद्ध स्रोत माना जाता है, जो रक्तचाप को कम करने में उपयोगी हो सकता है। इसके साथ ही कॉफी ऑर्थोस्टेटिक हाइपोटेंशन यानि अचानक से पोजीशन बदलने के कारण लो ब्लड प्रेशर के लिए भी एक असरदार घरेलू उपचार हो सकता है। ध्यान रखें कि कॉफी के अधिक सेवन से डिहाइड्रेशन हो सकता है। इसलिए डॉक्टर की सलाह पर ही इसकी मात्रा तय करें।

निम्न रक्तचाप के लिए तुलसी
तुलसी का उपयोग न केवल पूजा में बल्कि औषधि के रूप में भी कई वर्षों से किया जा रहा है। लो ब्लड प्रेशर की बात करें तो तुलसी का सेवन फायदेमंद हो सकता है। 18 से 30 साल की उम्र की महिलाओं पर किए गए शोध से इस बात की पुष्टि हुई है।

हाइपोटेंशन में तुलसी के रस का प्रयोग फायदेमंद हो सकता है। हैरानी की बात है कि तुलसी लो और हाई ब्लड प्रेशर को भी बैलेंस करने में मददगार हो सकती है। देखा जाए तो तुलसी मुख्य रूप से ब्लड प्रेशर को संतुलित रखने का काम करती है।

निम्न रक्तचाप के लिए रोज़मेरी
आप लो ब्लड प्रेशर के इलाज में मेंहदी के तेल को शामिल कर सकते हैं। दरअसल, एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित 32 लोगों पर किए गए एक अध्ययन में मेंहदी का तेल हाइपोटेंशन के लिए फायदेमंद पाया गया। मेंहदी का तेल अपने एंटीहाइपोटेंसिव गुणों के साथ निम्न रक्तचाप का इलाज कर सकता है। निम्न रक्तचाप के लक्षणों और नुकसान से बचने के लिए इस तेल का उपयोग किया जा सकता है। मेंहदी के तेल के साथ अरोमा थेरेपी भी ली जा सकती है।

निम्न रक्तचाप उपचार
सामान्यतः एक स्वस्थ व्यक्ति को निम्न रक्तचाप के उपचार की आवश्यकता नहीं होती है। निम्न रक्तचाप सामान्य है और निम्न रक्तचाप के लक्षणों को कुछ घरेलू उपचारों से ठीक किया जा सकता है। हां, लेकिन निम्न रक्तचाप की गंभीर समस्या वाले किसी व्यक्ति को उपचार की आवश्यकता हो सकती है।

निम्न रक्तचाप का इलाज करने के लिए, डॉक्टर रक्त आधान की सिफारिश कर सकते हैं।

लो ब्लड प्रेशर के इलाज के तौर पर ब्लड प्रेशर बढ़ाने और दिल की शक्ति बढ़ाने के लिए ब्लड प्रेशर की दवा दी जा सकती है।

निम्न रक्तचाप के इलाज के लिए अन्य दवाएं, जैसे एंटीबायोटिक्स, दी जा सकती हैं।

यदि कुछ प्रकार की दवाएं निम्न रक्तचाप का कारण बनती हैं, तो निम्न रक्तचाप के उपचार के दौरान दवाओं की खुराक में परिवर्तन किया जा सकता है।

Next Story