India News Agency
Begin typing your search above and press return to search.

दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला- फिलहाल लागू रहेगी पुरानी आबकारी नीति: सूत्रI

राज्य में लागू की गई आबकारी नीति को लेकर दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सूत्रों से मिली जानकारी

दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला - फिलहाल पुरानी आबकारी नीति ही लागू रहेगी : सूत्र

Indianews@agencyBy : Indianews@agency

  |  2022-07-30T01:46:19+05:30

दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला - फिलहाल पुरानी आबकारी नीति ही लागू रहेगी : सूत्र

राज्य में लागू की गई आबकारी नीति को लेकर दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली सरकार ने फैसला किया है कि फिलहाल पुरानी आबकारी नीति पूरे राज्य में लागू रहेगी. आपको बता दें कि पुरानी आबकारी नीति 31 जुलाई को ही खत्म हो रही थी। लेकिन सरकार के इस फैसले के बाद अब इसे आगे भी जारी रखा जाएगा. सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी मुख्य सचिव को पुरानी आबकारी नीति को जारी रखने का आदेश दिया हैI

उन्होंने अपने आदेश में कहा है कि छह महीने के भीतर नई आबकारी नीति तैयार कर कैबिनेट के सामने पेश की जाए. साथ ही नई आबकारी नीति आने तक यह सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी मुख्य सचिव की होगी कि पुरानी आबकारी नीति के तहत दिल्ली में शराब की बिक्री सुचारू रूप से चलती रहेI

बता दें कि कुछ दिनों पहले दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति को लेकर आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया था. दिल्ली के एलजी ने इस आबकारी नीति में भ्रष्टाचार की शिकायत सीबीआई में दर्ज कराने का फैसला किया था। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के बंगले के बाहर बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता और सांसद रमेश बिधूड़ी समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया. पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो कार्यकर्ताओं ने उन्हें धक्का मार दिया। दिल्ली के एलजी ने नई आबकारी नीति में सीबीआई द्वारा की गई भ्रष्टाचार की शिकायतों की जांच कराने का फैसला किया था। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष समेत केंद्रीय मंत्रियों ने आम आदमी पार्टी पर आरोप लगाए थेI

आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया था कि भाजपा सत्येंद्र जैन की तरह डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को झूठे मामलों में फंसाकर जेल भेजना चाहती है। कुछ दिन पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खुद बीजेपी पर आरोप लगाया था कि बीजेपी मनीष सिसोदिया जैसे ईमानदार शख्स को जेल भेजना चाहती है. दिल्ली सरकार की सफाई है कि नई आबकारी नीति में कोई भ्रष्टाचार नहीं है. इस सियासी जंग में आम आदमी पार्टी और बीजेपी क्यों पिछड़ गई तो कांग्रेस ने भी मनीष सिसोदिया के घर के बाहर प्रदर्शन किया. कांग्रेस का आरोप है कि दिल्ली में जगह-जगह शराब की दुकानें खोली गईंI

हिन्दी में देश दुनिया भर कि ताजा खबरों के लिए लिंक पर क्लिक करें india News.Agency

Next Story