India News Agency
Begin typing your search above and press return to search.

गर्दन और कंधे के दर्द से राहत के लिए योगासन

नींद न केवल आपके स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है, बल्कि यह आपकी त्वचा की देखभाल और बढ़ती उम्र को रोकने

गर्दन और कंधे के दर्द से राहत के लिए योगासन

Indianews@agencyBy : Indianews@agency

  |  2022-08-22T00:30:16+05:30

नींद न केवल आपके स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है, बल्कि यह आपकी त्वचा की देखभाल और बढ़ती उम्र को रोकने के लिए भी महत्वपूर्ण है। ऐसे में चैन की नींद बहुत जरूरी है। हालांकि, कभी-कभी नींद से उठने के बाद गर्दन और कंधों में दर्द की शिकायत होती है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो आपको अपने सोने के तरीके पर ध्यान देना चाहिए। साथ ही सुबह गर्दन और कंधे के दर्द के इलाज के लिए योग करना चाहिए। योग किसी भी तरह के तनाव को रोकता है लेकिन शरीर को तीव्र शारीरिक गतिविधि भी प्रदान करता है, जो सक्रिय रहने और चलते रहने में मदद करता है।

सोने का सही तरीका
सिर को सहारा देने के लिए फ्लैट तकिए का इस्तेमाल करें और पीठ के बल लेटते समय गर्दन को सहारा देने के लिए नेक रोल का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा है। सख्त या ऊंचे तकिए से बचना हमेशा बेहतर होता है क्योंकि यह नींद के दौरान गर्दन को फ्लेक्स रखता है, जिससे उठने के बाद अकड़न और दर्द होता है।

बिल्ली और काओ मुद्रा
इस योग मुद्रा को करने के लिए कलाइयां कंधों के नीचे और घुटने कूल्हों के नीचे होने चाहिए। सभी चौकों पर समान रूप से संतुलन बनाए रखें। ऊपर देखते हुए, श्वास लें और पेट को नीचे फर्श की ओर आने दें। सांस छोड़ते हुए ठुड्डी को छाती से स्पर्श करें और नाभि को रीढ़ की ओर खींचे। इस आसन को दोहराएं।
मुद्रा गर्दन और कंधों को मजबूत और फैलाती है।

बच्चे की मुद्रा
इस योग मुद्रा के लिए अपनी एड़ियों पर बैठें, आगे की ओर झुकें और अपने माथे को चटाई से नीचे करें। हथेलियों को नीचे की ओर रखते हुए बाजुओं को आगे की ओर फैलाएं। अपनी छाती को जाँघों के पास लाएँ और दबाएँ। कुछ सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें और छोड़ दें। यह पीठ और रीढ़ को आराम देता है और साथ ही कंधों पर तनाव कम करता है।

लेग्स अप द वॉल पोज
इस आसन को करना भी बहुत आसान है। इसे करने के लिए दीवार के सहारे पीठ के बल लेट जाएं। कूल्हों को दीवार से छूना चाहिए। पैरों को दीवार के सहारे ऊपर उठाएं और बाजुओं को बगल में टिकाएं। गहरी सांस लें और इस स्थिति में एक या दो मिनट तक रहें। यह गर्दन और कंधों को आराम देता है और पीठ दर्द में मदद करता है।

Next Story