India News Agency
Begin typing your search above and press return to search.

Agriculture Latest News: यदि भारत को विकसित देश बनना है तो इसके साथ कृषि का विकास करना होगा।

Agriculture Latest News: देश की अर्थव्यवस्था में सुधार और कृषि और ग्रामीण विकास की मजबूत स्थिति के कई संकेत थे।

Agriculture Latest News

Indianews@agencyBy : Indianews@agency

  |  2022-09-13T10:35:39+05:30

Agriculture Latest News:

देश की अर्थव्यवस्था में सुधार और कृषि और ग्रामीण विकास की मजबूत स्थिति के कई संकेत थे। वित्त वर्ष 2022-23 की अप्रैल-जून तिमाही में देश की सकल घरेलू विकास दर बढ़कर 13.5 प्रतिशत हो गई, जो पिछली चार तिमाहियों में सबसे तेज है। वास्तव में, हम अर्थव्यवस्था में जो विकास देख रहे हैं, वह कृषि, बागवानी और मत्स्य पालन में 4.5 प्रतिशत की वृद्धि में भी योगदान दे रहा है।

कृषि को एक ऐसे उद्योग के रूप में जाना जाता है जिसका अर्थव्यवस्था पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ता है। भारत, जो पहले कई दशकों तक खाद्य आयात पर निर्भर था, अब अपनी आबादी को खाद्य सुरक्षा प्रदान करने के अलावा दुनिया के सबसे बड़े खाद्य निर्यातकों में से एक है। भारत में खाद्यान्न का उत्पादन प्रतिवर्ष बढ़ रहा है। यह दूध उत्पादन में प्रथम तथा फल एवं सब्जी उत्पादन के मामले में विश्व में दूसरे स्थान पर है।

एक दशक पहले, हम अनाज उत्पादन में आत्मनिर्भर हो गए थे और अब दुनिया के शीर्ष दस कृषि निर्यातकों में से एक हैं। साथ ही, वैश्विक औद्योगीकरण के बावजूद, कृषि का सकल घरेलू उत्पाद में लगभग 15% का योगदान है। लेकिन उत्पादन बढ़ने के बावजूद 23 प्रतिशत किसान गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन कर रहे हैं। अधिक लागत और कम मुनाफे के कारण छोटे और मध्यम किसानों का खेती से मोहभंग होने लगा है। वर्तमान स्थिति और खेती की प्रवृत्ति पर नजर डालें तो इसके हर पहलू का पता चलता है। उत्पादन के कारकों जैसे भूमि, श्रम और पूंजी से लेकर विपणन, व्यापार और फसल संरक्षण तक, एक व्यापक समीक्षा और नई नीतियों की आवश्यकता है।

किसी भी देश के लिए खाद्य सुरक्षा कितनी महत्वपूर्ण है, यह यूक्रेन और रूस के बीच हुए इस युद्ध के बाद दुनिया के कई अन्य देशों ने हासिल किया है। हमारे पड़ोसी देशों में श्रीलंका और पाकिस्तान भी शामिल हैं। इसलिए देश में कृषि क्षेत्र को एक नया आयाम देने के लिए एक विशेष दृष्टि की जरूरत है। कृषि और उद्योग एक दूसरे के पूरक हैं, प्रतिस्पर्धी नहीं। कृषि के आधुनिकीकरण के बिना औद्योगिक विकास संभव नहीं है, क्योंकि यदि कृषि विकास नहीं होगा, तो अधिकांश आबादी के पास क्रय शक्ति नहीं होगी और बाजार का विस्तार नहीं होगा। अतः यह भी सत्य है कि औद्योगीकरण के बिना कृषि का विकास संभव नहीं होगा। इसलिए, कृषि और उद्योग क्षेत्र को एक साथ विकसित होना चाहिए। यदि भारत को विकसित देश बनना है तो इसके साथ कृषि का विकास करना होगा।

Next Story